अपराधब्रेकिंग न्यूज

दबंगों की गोली के शिकार युवक की मौत, तीन नामजद

गाजीपुर। जमानियां कोतवाली  के भैदपुर गांव में बुधवार की देर शाम दबंगों की गोली से जख्मी युवक राजकुमार बिंद राजा (30) की बीएचयू ट्रामा सेंटर में मौत हो गई। यह खबर मिलने के बाद गुस्साए ग्रामीण एक बार फिर गुरुवार की सुबह सड़क पर उतर आए और जमानियां-दिलदारनगर मार्ग पर जाम लगा दिए। ग्रामीणों का कहना था कि मृतक की पत्नी संतोषी देवी को मुआवजा और सरकारी नौकरी दी जाए। साथ ही हमलावरों की शीघ्र गिरफ्तारी की जाए। मौके पर मौजूद एसडीएम जमानियां शैलेंद्र प्रताप सिंह तथा सीओ जमानियां हितेंद्र कृष्ण ने किसी तरह समझा बुझाकर दोपहर करीब एक बजे रास्ता जाम खत्म कराया।

मालूम हो कि पेशे से राजमिस्त्री राजकुमार बिंद दिलदारनगर में काम कर घर लौट रहा था। उसी बीच गांव के पास नहर पुलिया पर ओवर टेक करने के सवाल पर अपने भाई बाला से उलझे बाइक सवार तीन युवकों पर उसकी नजर पड़ी। राजकुमार उनके पास पहुंचा और किसी तरह युवकों को शांत करा कर भाई को लेकर घर लौटा। शाम करीब साढे छह बजे बाइक सवार वह तीनों युवक अपने अन्य साथियों को लेकर राजकुमार के घर धमक आए और उसके साथ मारपीट करने लगे। बीच बचाव करने आए राजकुमार के पिता फूलचंद को लोहे के राड के प्रहार से जख्मी कर दिए। उसी बीच हमलावरों में एक ने तमंचा निकाल कर राजकुमार के सीने में गोली मार दी। उसके बाद सभी हमलावर नरियांव गांव की ओर भाग गए। हमले में घायल राजकुमार तथा उसके पिता फूलचंद को सीएचसी जमानियां पहुंचाया गया। राजकुमार की चिंताजनक दशा देखते हुए चिकित्सकों ने उसे बीएचयू ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया। इधर इस घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने जमानियां-दिलदारनगर मार्ग पर जाम लगा दिया लेकिन कोतवाल जमानियां रविंद्र भूषण मौर्य के आश्वासन पर कुछ ही देर में वह जाम खत्म कर दिए। सूचना मिलने पर पुलिस कप्तान डॉ. ओमप्रकाश सिंह मौके पर पहुंचे और जायजा लेने के साथ ही पीड़ित परिवार से मिल कर घटनाक्रम की जानकारी लिए।

सुबह राजकुमार की मौत की सूचना मिलने के बाद ग्रामीणों का गुस्सा एक बार फिर फूट पड़ा। वह आस-पास के पेड़ों की डालियां काट कर बीच सड़क रख दोबारा रास्ता जाम कर दिए। उनमें महिलाएं तथा बच्चे भी शामिल थे।

इस सिलसिले में राजकुमार बिंद के भाई बाला बिंद ने तीन नामजद तथा चार अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई है। नामजद अभियुक्तों में भंटू यादव, संजय यादव तथा दीपक यादव है। संजय यादव भैदपुर गांव का ही बताया गया है।

सीओ जामानियां हितेंद्र कृष्ण ने बताया कि अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए उनके संभावित ठिकानों पर दबिश डाली जा रही है। वह सभी शीघ्र ही गिरफ्त में होंगे।

यह भी पढ़ें–ढाबा कांड: सबूत मिटाने का मास्टर माइंड कौन

`आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort