अपराधब्रेकिंग न्यूजशासन-प्रशासन

गिरवी मकान से कर्जखोर बेदखल, मामला खानपुर का

गाजीपुर। गिरवी रखे मकान की  नीलामी के बाद भी उसमें काबिज कर्जखोर को राजस्व विभाग ने पुलिस की मदद से बेदखल कर दिया। मामला खानपुर बाजार का है।

बाजार के कन्हैया विश्वकर्मा ने साल 2010 में अपना वह मकान गिरवी रख पंजाब नेशनल बैंक से दस लाख रुपये का कर्ज लिया था। कर्ज की रकम चुकता न करने पर बैंक ने उस मकान को 16 जून 2019 को नीलाम किया। निलामी में सबसे ऊंची बोली लगाकर खानपुर के ही नीरज सिंह ने ही उसका मालिकाना हक अपने नाम करा लिया। बावजूद कन्हैया विश्वकर्मा उस मकान पर अपना कब्जा बनाए रखा। बार-बार की शिकायत के बाद भी वह अपना कब्जा नहीं छोड़ा। तब नीरज सिंह कोर्ट की शरण लिए। कोर्ट के आदेश पर डीएम ने राजस्व विभाग को जरूरी कार्रवाई के लिए कहा। उसके बाद तहसीलदार सैदपुर दिनेश कुमार मय फोर्स मकान पर पहुंचे और विश्वकर्मा  परिवार की बेदखली की कार्रवाई शुरू किए। तब कन्हैया की पत्नी रीना विश्वकर्मा ड्रामा करने लगी। वह मिट्टी का तेल लेकर अत्मदाह की धमकी देना शुरू की कन्हैया के दोनों बेटे प्रियांशु तथा हिमांशु भी बाधा डालने लगे। पुलिस उन दोनों को हिरासत में ले ली और नीरज सिंह को वह मकान सुपुर्द कर दिया गया।

यह भी पढ़ें—शम्मी का किसको अल्टीमेटम

आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort