ब्रेकिंग न्यूजस्वास्थ्य

डब्ल्यूएचओ यूनिट की दारू-मुर्गा पार्टी पर अब एक्शन

गाजीपुर। डब्ल्यूएचओ की गाजीपुर यूनिट के लिए दारू-मुर्गा पार्टी महंगी पड़ गई। जहां सीएमओ ने अपनी ऑफिस बिल्डिंग से यूनिट को बहरियाने का फरमान जारी कर दिया है। साथ ही अपने तीन मातहतों की कमेटी बनाकर पूरे मामले की जांच भी बैठा दी है। वहीं डब्ल्यूएचओ के ऊपर के अधिकारी भी गाजीपुर यूनिट पर एक्शन के मूड में आ गए हैं। दारू-मुर्गा पार्टी का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने पर बखेड़ा खड़ा होने के बाद सीएमओ ऑफिस और डब्ल्यूएचओ की साख बचाने की यह सब कवायद है।

यूं तो सीएमओ ऑफिस के ऊपरी तल पर स्थापित डब्ल्यूएचओ यूनिट के लिए दारू-मुर्गा पार्टी आए दिन की बात थी। जानकार तो बताते हैं कि खुद सीएमओ इस बात से वाकिफ न रहे हों लेकिन उनके ऑफिस का लगभग हर बंदा इस बात से वाकिफ था। बल्कि उनमें दारू-मुर्गा का शौक फरमाने वाले तो उस पार्टी के हिस्सेदार भी बनते रहते थे। खबर तो यह भी है कि उन्हीं में एक-दो अपने खुद के रहन से पार्टी से `आउट` कर दिए गए। तब उन्होंने डब्ल्यूएचओ यूनिट को सबक सिखाने की गरज में खुफिया तरीके से दारू-मुर्गा पार्टी को शूट कर लिया। फिर उसकी फोटो मीडिया कर्मियों को उपलब्ध कराने के साथ ही उसे सोशल मीडिया पर भी अपलोड करवा दिया और अब जबकि थूड़ी-थूड़ी शुरू हुई है तो `इज्जत` बचाने के लिए ऊपर के जिम्मेदार हरकत में आ गए हैं। जाहिर है कि सीएमओ ऑफिस बिल्डिंग से ही डब्ल्यूएचओ के पल्स पोलियो अभियान सहित अन्य कार्यक्रमों का संचालन होता है और कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी के लिए चल रहे वैक्सीनेशन का कोल्ड चेन रूम भी उसी बिल्डिंग में स्थापित है। बावजूद उस बिल्डिंग में ऐसी अराजक गतिविधियां सुन हर कोई जिम्मेदार लोगों को कोसने लगा है।

इसी बीच सीएमओ जीसी मौर्य ने डब्ल्यूएचओ यूनिट को बकायदा नोटिस जारी कर दस दिन के भीतर अपने ऑफिस के फर्स्ट फ्लोर से निकल जाने को कह दिया है। साथ ही एसीएमओ द्वय उमेश कुमार व प्रगति कुमार सहित एक टेक्नीशियन को शामिल कर जांच कमेटी बनाकर पांच दिन में रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कह दिया है। उधर डब्ल्यूएचओ के रिजनल कोऑर्डिनेटर के स्तर से भी जांच-पड़ताल शुरू हो गई है।

वायरल हो रही फोटो में दिख रहे चेहरों में डब्ल्यूएचओ यूनिट के हेड इशान कांगड़ा और उनके सहयोगी बताए जा रहे हैं। हालांकि सीएमओ ऑफिस के सूत्रों का कहना है कि वायरल हो रहे फोटो हाल के नहीं हैं। बल्कि एक फोटो पिछले साल दिसंबर और दूसरी इस साल के जनवरी की है।

यह भी पढ़ें–मुख्तार के करीबी का असलहा लाइसेंस सस्पेंड

आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें 

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort