ब्रेकिंग न्यूजराजनीति

भाजपा को पंचायत चुनाव में अपनी हैसियत का अंदाजा लग जाएगाः अफजाल

गाजीपुर। सांसद अफजाल अंसारी का दावा है कि पंचायत चुनाव में ही वह भाजपा को उसकी हैसियत का अंदाजा करा देंगे। शुक्रवार को अपनी पार्टी बसपा की मुखिया के जन्मदिन पर लंका मैदान में आयोजित समारोह में श्री अंसारी ने कहा कि विधानसभा चुनाव तो अभी दूर की बात है। उसके पहले पंचायत चुनाव में ही भाजपा की करारी हार तय है।

उन्होंने साफ कहा कि पंचायत चुनाव में भाजपा अपनी लाज बचाने के लिए सत्ता का दुरुपयोग करते हुए तीन तिकड़म शुरू कर दी है। शुरुआत पंचायतों के मतदाता सूची में धांधली से हो भी गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा की इस कारस्तानी का जवाब बसपाजनों को ठीक से देना है। इसके लिए उनकी एकजुटता, संकल्पबद्धता जरूरी होगी। हिदायत देते हुए कहा कि विरोधियों के धन प्रलोभन से हर हाल में बचना होगा। टिकट के बंटवारे में भी पार्टी के प्रति निष्ठावान, लोकप्रिय और संघर्षशील चेहरे को ही अहमियत देनी होगी। वह वादा किए कि पंचायत चुनाव में पार्टी उम्मीदवारों के प्रचार अभियान में वक्त देंगे।

फिर वह अपनी पार्टी मुखिया मायावती पर आए। कहे कि मौजूदा राजनीतिक हालातों को लेकर मायावती पर चुप्पी साधने का आरोप लगाया जा रहा है जबकि यह आरोप लगाने वालों को यह पता होना चाहिए कि वह बेवक्त नहीं बल्कि वक्त आने पर बोलती हैं। वह लोग याद करें कि जब अटल बिहारी वाजपेयी सरकार को सदन में अपना बहुमत साबित करना था। तब भाजपा  ख्वाब देख रही थी कि सदन में मायावती साथ देंगी लेकिन हुआ था बिल्कुल उलट। मायावती भाजपा की फिरकापरस्त सरकार को औंधे मुंह गिरा दी थीं।

इस मौके पर कोविड-19 को लेकर सांसद कहे कि सरकार वैक्सीन को लेकर खुद ही पीठ थपथपा रही है जबकि आमजन में कोई उत्सुकता नहीं है। यहां तक कि आमजन वैक्सीन लगवाने के पक्ष में ही नहीं दिख रहा है। समारोह में मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने सरकारी धान खरीद का मुद्दा प्रमुखता से उठाया। हकीकत यही है कि उसका लाभ आम किसान नहीं बल्कि बिचौलियों ने मुनाफा कमाया है। कृषि बिल को लेकर आंदोलित किसानों की चर्चा करते हुए सांसद ने कहा कि उन्हें साजिश के तहत देशद्रही करारा जा रहा है जबकि हकीकत यही है कि उनमें ज्यादातर वही हैं जो भाजपा के पक्ष में वोट कर उसे सत्ता में लाए और इसके लिए वह अब अफसोस जता रहे हैं।

श्री अंसारी ने कहा कि भाजपा सरकार विकास का महज ढिढोरा पीट रही है। सच्चाई यह है कि जिला पंचायत सदस्यों की ओर से प्रस्तावित कार्यों को भी भाजपा के लोग अपने खाते में जोड़ रहे हैं। यहां तक कि उन्होंने सांसद की हैसियत से प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत गाजीपुर में कई सड़कों के प्रस्ताव को मंजूरी दिलाई लेकिन उसका श्रेय भी भाजपा के लोग ले रहे हैं। बल्कि एक सड़क का उद्घाटन तो भाजपा की जमानियां विधायक खुद कर अपनी पीठ थपथपा लीं।

समारोह के मुख्य अतिथि पार्टी के मुख्य सेक्टर प्रभारी वाराणसी मंडल डॉ. विनोद कुमार थे। संचालन जिलाध्यक्ष सत्यप्रकाश गौतम ने किया। समारोह में पूर्व विधायक त्रैय उमाशंकर कुशवाहा, कालीचरण राजभर तथा खुर्शीद अहमद के अलावा विनोद बागड़ी, धनंजय मौर्य, पूर्णमासी पाल के अलावा चेयरमैन नगर पालिका मुहम्मदाबाद शमीम अहमद, चेयरमैन नगर पालिका जमानियां एहसान जफर, बहादुरगंज नगर पंचायत चेयरमैन रियाज अंसारी, सैदपुर नगर पंचायत चेयरमैन प्रतिनिधि शशि सोनकर, रामप्रकाश गुड्डू, शारदानंद राय लुटुर, शिवकुमार राय आदि थे। समारोह में खासी भीड़ थी और रह-रह कर मायावती तथा अफजाल अंसारी जिंदाबाद के नारे गूंज रहे थे।

यह भी पढ़ें–अपहरण बिहार में, बरामदगी गाजीपुर में

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort