ब्रेकिंग न्यूजशासन-प्रशासन

…और आरोपित कोटेदार की मेजबानी कबूल लौट गए सप्लाई इंस्पेक्टर

गाजीपुर। एसडीएम मुहम्मदाबाद का आदेश को सप्लाई इंस्पेक्टर कितनी गंभीरता से लेते हैं। इसका अंदाजा शुक्रवार को मिला।

भांवरकोल ब्लॉक की ग्राम पंचायत महेशपुर द्वितीय के लोगों ने एसडीएम मुहम्मदाबाद से अपनी ग्राम पंचायत के कोटेदार रामजी यादव के विरुद्ध कई गंभीर शिकायत की थी। एसडीएम ने उनकी शिकायत को संज्ञान में लेते हुए सप्लाई इंस्पेक्टर संतोष कुमार को जांच के लिए मौके पर भेजा।

सप्लाई इंस्पेक्टर ग्राम पंचायत में पहुंचे और किसी सार्वजनिक जगह के बजाए अपनी गाड़ी के पास ही खड़े हो गए। अन्य ग्रामीणों के बयान लेने के सवाल पर साफ कहे कि वह बस शिकायतकर्ताओं का ही बयान लेंगे और अपनी गाड़ी के बोनट पर ही बयान दर्ज करने की कार्यवाही पूरी कर वह सीधे कोटेदार के घर पहुंचे। टोकने पर कहे कि उन्हें कोटे की दुकान का स्टाक चेक करना है।

ग्रामीणों की मानी जाए तो कोटेदार के घर सप्लाई इंस्पेक्टर की खूब खातिरदारी हुई। उसी क्रम में उन्होंने कोटेदार के पक्ष के कुछ ग्रामीणों को बुलाकर उनका भी बयान दर्ज किया। करीब दो घंटे तक वह कोटेदार के मेहमान बने रहे। बल्कि शिकायतकर्ताओं से यह भी कहे कि उनसे कहीं ज्यादा तादात में कोटेदार के पक्ष में बयान आए हैं।

ग्रामीणों का कहना है कि सप्लाई इंस्पेक्टर जांच के बजाए कोटेदार की जायकेदार मेहमानबाजी का आनंद लेने आए थे। इस बाबत इस प्रतिनिधि ने सप्लाई इंस्पेक्टर से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि वह कोटेदार के यहां स्टाक चेक करने गए थे और उन्होंने मात्र शिकायतकर्ताओं का ही बयान लिया।

यह जरूर सुनें–भाजपा का ‘मेगा प्लान'!

 ‘आजकल समाचार’ की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

Related Articles

Back to top button