ब्रेकिंग न्यूजशासन-प्रशासन

अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई भेदभाव रहित: सूर्यप्रताप शाही

गाजीपुर। प्रदेश सरकार के कृषि शिक्षा मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने कहा कि कृषि कानूनों के विरुद्ध दिल्ली की सीमा घेरने वाले जमीनी किसान नहीं हैं बल्कि अपने लिए अवसर की ताक में रहने वाले राजनीतिक लोगों का वह जमावड़ा भर है।

श्री शाही पूर्व विधायक पशुपति नाथ राय की दिवंगत भाभीश्री रीता राय पत्नी सचिदानंद राय के लिए शोक संवेदना जताने उनके घर रविवार की शाम रेवतीपुर पहुंचे थे। उस मौके पर मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने कहा कि केंद्र के साथ ही प्रदेश की सरकार भी किसानों के हितों को लेकर प्रतिबद्ध है। प्रदेश सरकार किसान कल्याण मिशन चला रही है। हर ब्लाक में किसान मेला, किसान गोष्ठी और किसान प्रदर्शनी आयोजित कर किसानों को अपनी आय दोगुनी करने के लिए जागरुक तथा प्रशिक्षित किया जा रहा है। एक सवाल पर उन्होंने अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई में किसी तरह के भेदभाव से साफ इन्कार किया। कहा कि उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास चाहती है। इसमें कहीं भी भेदभाव की गुंजाइश नहीं रह जाती।

कृषि शिक्षा मंत्री ने बताया कि गाजीपुर में भी कृषि विज्ञान केंद्र का निर्माण हो जाएगा। इसके लिए धन भी आवंटित कर दिया गया है। कुल ढाई करोड़ रुपये की लागत आएगी। एक अन्य सवाल पर श्री शाही ने कहा कि कोविड-19 की वैक्सीन को भाजपा की वैक्सीन बताना सपा मुखिया अखिलेश यादव की सतही सोच का नतीजा है। इससे उनकी शैक्षणिक योग्यता पर भी सवाल खड़ा होता है। इस मौके पर प्रमोद राय, ललन सिंह, गोपाल राय, प्रफुल्ल राय, जमालुद्दीन खां, संजय राय, मनीष पांडेय आदि भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें—बेचारे भाजपाई! लगे हाथ-पांव पटकने

आजकल समाचार की खबरों के लिए नोटिफिकेशन एलाऊ करें

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort