अपराधब्रेकिंग न्यूज

सूूअर व्यवसायी की निर्मम हत्या कर फेंके शव

गाजीपुर। सूूअर व्यवसायी चंद्रदेव वनवासी (35) की निर्मम हत्या कर शव नंदगंज थाने के रजादी गांव से गुजर रही नहर के पास फेंक दिया गया। शव पर ग्रामीणों की नजर सोमवार की सुबह पड़ी। चंद्रदेव शहर कोतवाली के मनुवापुर (चक अब्दुल बहाव) का रहने वाला था। रविवार की दोपहर घरवालों को अपने व्यवसाय के सिलसिले में जाने की बात कह घर से निकला था।

यह भी पढ़ें—…और बसपाई नहीं भूले अमेरिका प्रधान को

चंद्रदेव के सिर, पीठ पर लाठी-डंडे के संघातक चोट के निशान थे। उसके शरीर पर सिर्फ अंडरवियर था जबकि पास में ही उसकी क्रीम कलर की पैंट और गुलाबी कलर की शर्ट पड़ी थी। मौके पर रक्तरंजित लाठी भी मिली। उसके दाहिने हाथ पर गोदना था। बावजूद शुरू में उसकी शिनाख्त को लेकर पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

ग्रामीणों के अनुसार रजादी गांव की अनुसूचित बस्ती का एक व्यक्ति सामने आया और उसने शव की पहचान करने के साथ ही यह भी बताया कि चंद्रदेव का उसकी बस्ती के एक घर में प्राय: आना जाना था। पूर्व शाम को भी वह वहां पहुंचा था। जाहिर है कि चंद्रदेव का रजादी गांव से कनेक्शन की बात सामने आने से यह लगभग साफ है कि उसकी हत्या का सूत्र भी वहीं से जुड़ा है।

हालांकि एसओ नंदगंज राकेश सिंह ने बस इतना ही बताया कि यह हत्या का मामला है और अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उधर मौके से लौटे एएसपी सिटी गोपीनाथ सोनी ने कहा कि हत्यारों की पहचान लगभग हो गई है। उनकी पुष्टि के लिए कुछ को हिरासत में लेकर पूछताछ हो रही है। पूरी कहानी शीघ्र ही सामने आ जाएगी।           

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort