ब्रेकिंग न्यूजराजनीति

सियासी इंतकाम का नतीजा है `गजल` पर बुल्डोजरः अफजाल

गाजीपुर। सांसद अफजाल अंसारी खुद के परिवार के साथ ही उनसे जुड़े लोगों की संपत्ति की जब्ती-कुर्की और ध्वस्तीकरण की कार्रवाई को राजनीतिक प्रतिशोध का परिणाम बताते हैं।

गाजीपुर में रविवार की सुबह अपने विधायक भाई मुख्तार अंसारी के होटल गजल के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई के बाद लखनऊ में  एक समाचार एजेंसी से बातचीत में उन्होंने कहा कि सूबे की योगी सरकार पर उनके परिवार के खिलाफ राजनीतिक बदले की भावना से काम कर रही है।

यह भी पढ़ें–सरनामी बदमाश धनजी पुलिस के हाथ लगा

उनका कहना था कि दिल्ली के बहुचर्चित और जघन्य निर्भयाकांड के अपराधियों को भी स्थानीय अदालत से लेकर उच्चतम न्यायालय तक अपील का मौका मिला था लेकिन योगी सरकार अंसारी परिवार के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए संवैधानिक परंपरा और कानून को पूरी तरह ताक पर रख दी है। योगी सरकार उनके विधायक भाई मुख्तार अंसारी समेत परिवार के अनेक सदस्यों के खिलाफ साजिश के तहत काम कर रही है और गाजीपुर में होटल गजल को ध्वस्त करना राजनीतिक प्रतिशोध की ताजी कड़ी है।

अफजाल ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में गाजीपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा और सारी ताकत झोंकने के बाद भी भाजपा प्रत्याशी मनोज सिन्हा की सवा लाख मतों से करारी हार की बौखलाहट में भाजपा सरकार राजनीतिक प्रतिशोध की हदें पार कर रही है। उन्होंने कहा कि उनके तकरीबन चार दशक के राजनीतिक जीवन में पहले कभी कोई सरकार इस तरह बदले की भावना से काम नहीं की। दरअसल भाजपा सरकार आम जनता से जुड़े मुद्दों से ध्यान हटाने और अपनी नाकामियों पर पर्दा डालने के लिए यह सब कर रही है।

मालूम हो कि अफजाल के भाई मुख्तार और उनके सहयोगियों पर योगी सरकार लगातार सख्ती कर रही है। यहां तक कि खुद अफजाल की पत्नी फरहत अंसारी पर भी गुरुवार को लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में शत्रु संपत्ति पर अवैध कब्जे के आरोप में एफआईआर दर्ज हुई।

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort