ताजा ख़बरें

समाजवादी पार्टी: पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष लोटन राम निषाद की विदाई का एक कारण यह भी

गाजीपुर। समाजवादी पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष पद से लोटन राम निषाद को हटाने का एक कारण गाजीपुर का प्रसंग भी माना जा रहा है।

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की सहमति पर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने लोटन राम निषाद को पदच्युत कर उनकी जगह एमएलसी डॉ. राजपाल कश्यप को प्रकोष्ठ की जिम्मेदारी सौंप दी। यह कार्रवाई सोमवार को हुई।

यह भी पढ़ें—सरजू पांडेय भी धारा 370 हटाने के पक्ष में थे

लोटन राम निषाद मूलत: गाजीपुर के देवकली ब्लाक स्थित सरौली गांव के रहने वाले हैं। बावजूद गाजीपुर में पार्टी के  पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष की नियुक्ति को लेकर उन पर सीधे अंगुली उठी। पहले प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष पद पर विशाल मद्धेशिया की उन्होंने नियुक्ति की  थी लेकिन कुछ ही दिन में उनको हटा कर यह पद सत्यनारायण चौहान बब्लू को दे दिया।

लोटन राम की इस कार्यवाही पर पार्टी के भीतर फुसफुसाहट शुरू हो गई। कहा जाने लगा कि यह सब लेनदेन को लेकर हुआ है। इस मामले को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेता चंद्रिका यादव और पूर्व जिला पंचायत सदस्य बजरंगी यादव सीधे लखनऊ पहुंच गए और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के सामने लोटन राम निषाद की कारस्तानी पेश कर दिए।

अब जबकि लोटन राम निषाद को पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है तो इस कार्रवाई को गाजीपुर के कार्यकर्ता विशाल मद्धेशिया बनाम बब्लू चौहान से जोड़ रहे हैं। वैसे लोटन राम निषाद ने हाल ही में भगवान राम को लेकर अमर्यादित टिप्पणी की थी। इसको लेकर भी पार्टी का शीर्ष नेतृत्व उनसे नाखुश था।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort