अपराधब्रेकिंग न्यूज

रिटायर दारोगा के बेटे को मारे गोली, बीएचयू रेफर

गाजीपुर। बेखौफ बदमाश अनुसूचित जाति के युवक संतोष गौतम सन्नी (26) को गोली मारकर फरार हो गए। घटना शनिवार की देर शाम करीब छह बजे मरदह थाने के कबीरपुर गांव की है। सन्नी को जिला अस्पताल से बीएचयू ट्राम सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया। गोली उसके जंघे के पास लगी है। उसकी हालत खतरे से बाहर है। शुरुआती छानबीन में घटना पुरानी रंजिश का परिणाम बताई गई है। सन्नी के पिता रवींद्र राम कुछ माह पहले ही मध्य प्रदेश पुलिस के उप निरीक्षक पद से रिटायर हुए हैं। सन्नी पढ़ाई के बाद घर पर ही रहता है।

सन्नी के चाचा वीरेंद्र गौतम इन दिनों बीमार हैं। उन्हें देखने के लिए वह उनके घर गया था। उसी बीच घर के बाहर किसी ने उसके चाचा का नाम लेकर आवाज दी। सन्नी और उसकी चाची दरवाजा खोलकर बाहर निकले। तभी आवाज देने वाले युवक ने सन्नी पर लक्ष्य कर दो गोलियां दाग दी। एक गोली सन्नी के जंघे पर जबकि दूसरी उसके हाथ के मोबाइल फोन में लगी। गोलियां मारने के बाद हमलावर युवक मुख्य सड़क की ओर भाग गया। वह अपना चेहरे पर गमछा बांधे था।

यह भी पढ़ें–एमएलसी चुनावः कहां पड़ेंगे वोट

गोलियां चलने की आवाज सुन आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और हमलावर युवक को तलाशते मुख्य सड़क तक गए लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला। अंदाजा लगाया जा रहा है कि हमलावरों की संख्या कम से कम दो रही होगी। प्लानिंग के तहत एक हमलावर बाइक लेकर सड़क पर रुक गया होगा और गोली मार कर लौटे साथी को लेकर भाग निकला हो। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस कप्तान डॉ.ओमप्रकाश सिंह जिला अस्पताल पहुंचे और घायल युवक सन्नी से घटनाक्रम की जानकारी लिए।

उधर रात करीब नौ बजे मौके पर मौजूद सीओ कासिमाबाद महिपाल पाठक ने बताया कि मौके पर 32 बोर का खोखा मिला है। घायल युवक के परिवार से अभी तहरीर नहीं मिली है।

मालूम हो कि मरदह थाना क्षेत्र में एक माह के भीतर यह तीसरी बड़ी और दुस्साहसिक वारदात है। कुछ ही दिन पहले ग्राम लहुरापुर के प्रधानपति संतोष राम की गोली मारकर हत्या हुई थी। उसके पहले बोगना गांव में अधेड़ अनिल सिंह को गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया गया था।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort