ब्रेकिंग न्यूजशिक्षा

यूपी बोर्ड: परीक्षा केंद्रों के निर्धारण की प्रक्रिया शुरू

गाजीपुर। यूपी बोर्ड की अगले साल होने वाली हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा के लिए केंद्रों के निर्धारण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को  पांच दिसंबर तक आधारभूत विवरण बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कर देना है। डीआईओएस ओमप्रकाश राय ने बताया कि उसके बाद प्रधानाचार्यों की ओर से अपलोड किए गए उनके विद्यालयों के  आधारभूत विवरण के भौतिक सत्यापन का काम एसडीएम की अगुवाई वाली तहसील स्तरीय कमेटी 20 दिसंबर तक  पूरा करेगी और उसकी रिपोर्ट 26 दिसंबर तक बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कर दी जाएगी। फिर जिला स्तरीय कमेटी उसका सत्यापन करेगी।

यह भी पढ़ें—सपा नेता का हत्यारा ढेर

उस आधार पर बोर्ड परीक्षा केंद्रों का निर्धारण कर आपत्तियां लेगा। उसके बाद आपत्तियों का निस्तारण कर परीक्षा केंद्रों की सूची जारी होगी। उस सूची का अनुमोदन का काम जिला स्तरीय कमेटी 31 जनवरी तक कर देगी। उस बीच आपत्तियों के लिए चार फरवरी तक एक मौका और दिया जाएगा और उनका निस्तारण कर बोर्ड नौ फरवरी को परीक्षा केंद्रों की अंतिम सूची जारी कर देगा।

कोविड-19 के चलते इस बार एक परीक्षा केंद्र पर दोनों पालियों को मिलाकर अधिकतम 800 और न्यूनतम 150 परीक्षार्थी आवंटित किए जाएंगे। इस हिसाब से संभव है कि परीक्षा केंद्रों की संख्या बढ़ सकती है। पिछली परीक्षा में  गाजीपुर में कुल 228 परीक्षा केंद्र बने थे। डीआईओएस ने बताया कि इस बार भी परीक्षा केंद्रों के निर्धारण की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी।

नकल माफियाओं में मायूसी

याद करें तो पहले नकल माफियाओें का खेल परीक्षा केंद्रों के निर्धारण प्रक्रिया के साथ ही शुरू होता था। तब डीआईओएस दफ्तर और उसके आसपास मजमा लग जाता था लेकिन अब परीक्षा केंद्र निर्धारण की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होने से नकल माफियाओं को गुंजाइश की जगह शायद ही मिले। यही वजह है कि परीक्षा केंद्र के निर्धारण को लेकर उनमें कोई खास उतावलापन नहीं दिख रहा है।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort