अपराधब्रेकिंग न्यूज

मुख्तार को लाने में योगी सरकार को करना होगा अभी और इंतजार, सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई की अगली तारीख तीन फरवरी

गाजीपुर। पंजाब के रोपड़ जेल से मुख्तार को यूपी लाने में योगी सरकार को अभी और इंतजार करना पड़ेगा। इस मामले में योगी सरकार की क्रिमिनल रिट पर एससी ने सुनवाई की और फिर अगली सुनवाई की तारीख तीन फरवरी मुकर्रर कर दी।

एससी ने पंजाब की कांग्रेस सरकार से दो हफ्ते में जवाब देने को भी कहा है। जवाब में मुख्तार पर पंजाब में दर्ज मामलों की स्टेटस रिपोर्ट देनी होगी।

एससी में सुनवाई के वक्त योगी  सरकार के वकील ने दमदारी से पक्ष रखा। यहां तक कहा कि मुख्तार के मामले में पंजाब सरकार का रवैया फेडरल (संघी) स्ट्रक्चर की मूल भावना के बिल्कुल उलट है। मुख्तार के खिलाफ यूपी के अकेले एमपी-एमएलए कोर्ट प्रयागराज में दस संगीन मामले लंबित हैं। इन मामलों के शीघ्र निस्तारण के क्रम में मुख्तार को पेश करने के लिए करीब 45 बार नोटिस रोपड़ जेल प्रशासन को तामील कराई गई लेकिन वह हर बार मुख्तार की सेहत नासाज होने का हवाला दे कर पहुंची यूपी पुलिस को बैरंग लौटाया जाता रहा। ऐसे मामलों में पंजाब सरकार की ओर से अब तक मुख्तार की करीब 40 मेडिकल रिपोर्ट यूपी की विभिन्न अदालतों में पेशी की नियत तारीख पर प्राप्त कराई जा चुकी है।

योगी सरकार के वकील ने यह भी कहा कि मुख्तार पर पंजाब में कोई गंभीर मामला दर्ज नहीं है। ऐसे में मुख्तार को यूपी ट्रांसफर नहीं करने का कोई ठोस आधार पंजाब सरकार नहीं बता पा रही है। सीआरपीसी में यह स्पष्ट जिक्र है कि मामलों की सुनवाई के दौरान दो राज्य आपसी समन्वय बनाए रखेंगे ताकि मामलों का समय से निस्तारण हो सके।

सुनवाई के वक्त मौजूद पंजाब सरकार के वकील ने जवाब दाखिल करने के लिए दो हफ्ते की मोहलत मांगी।

मालूम हो कि गाजीपुर की मुहम्मदाबाद कोतवाली में दर्ज मामले की सुनवाई एमपी-एमएलए कोर्ट प्रयागराज में लंबित है। कोर्ट मुख्तार को पेश करने के लिए कई बार आदेश दे चुका है। कोर्ट के सख्त आदेश के बाद गाजीपुर पुलिस की टीम मुख्तार को लेने के लिए रोपड़ जेल गई थी लेकिन उसे बैरंग लौटना पड़ा था। इसी मामले को लेकर योगी सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंची है। सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार की रिट स्वीकार करते हुए पंजाब सरकार के संबंधित सचिव, रोपड़ जेल अधीक्षक तथा मुख्तार अंसारी को नोटिस जारी की थी। नोटिस संबंधित पक्षों  को हाथों-हाथ रिसीव कराने के लिए गाजीपुर के दो एसआई की टीम बीते सप्ताह चंडीगढ़ तथा रोपड़ गई थी।

यह भी पढ़ें—पूर्व मंत्री कृपा शंकर सिंह आएंगे

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort