अपराधब्रेकिंग न्यूज

मुख्तार के करीबी नन्हे खां के घर बलिया पुलिस भी धमकी

गाजीपुर। बाहुबली विधायक मु्ख्तार अंसारी के करीबी नन्हे खां की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रहीं हैं। रविवार की शाम करीब तीन बजे बलिया की चितबड़ागांव पुलिस उसके घर धमक गई। नन्हे तथा उसका बेटा लापता मिले। पुलिस दो नाबालिग सहित तीन को उठा ले गई।

एसओ चितबड़ागांव उदयभान सिंह ने ‘आजकल समाचार’ को बताया कि उनके थाना क्षेत्र स्थित कारो गांव में मिट्टी के अवैध खनन के मामले में नन्हे और उसका बेटा वांछित है। उसकी जेसीबी पहले ही जब्त की जा चुकी है।

यह भी पढ़ें—पत्रकार एसोसिएशन: कौन जीता, कौन हारा

चितबड़ागांव पुलिस नन्हे के गांव महेंद जैसे ही पहुंची। वहां अफरा तफरी मच गई। उसके सपोर्ट में इलाकाई थाना करीमुद्दीनपुर की भी फोर्स साथ थी। पुरी फोर्स तीन गाड़ीयों से पहुंची थी। वांटेड नन्हे और उसके बेटे की तलाश में उनके घर सहित अगल-बगल के घरों को भी खंगाला गया। बाप बेटे के नहीं मिलने पर मौके से तीन लोगों को पुलिस अपने साथ उठा ले गई। नन्हे के घरवालों ने बताया कि उन तीन में एक रिश्तेदार तथा एक अन्य गांव का नाबालिक है।

मालूम हो कि नन्हे खां को करीमुद्दीनपुर पुलिस बीते गुरुवार की सुबह उसके घर छापामारी कर तमंचे के साथ गिरफ्तार की थी। यह कार्रवाई महेंद गांव से गुजर रही मगई नदी पर जबरिया पुल बनाने के दर्ज मामले में हुई थी। उस पर 25 हजार का ईनाम भी घोषित था। हालांकि गिरफ्तारी के 36 घंटे बाद ही नन्हे कोर्ट से जमानत पा लिया था और शनिवार की सुबह जेल से बाहर भी आ गया था। नन्हे खां साल 2005 में अपने गांव का प्रधान चुना गया था। मौजूदा वक्त में उसकी पत्नी कमरुननिशा गांव की प्रधान हैं। नन्हे के घर छापामारी के वक्त तीन लोगों को उठाने के सवाल पर  एसओ चितबड़ागांव उदयभान सिंह ने कहा कि फरार मुल्जिमों के बाबत जानकारी के लिए कुछ लोगों को मौके से हिरासत में लिया गया है।  

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort