अपराधब्रेकिंग न्यूज

मुख्तार के करीबी के घर तड़तड़ाईं गोलियां, पुलिस कप्तान के निर्देश पर धमकी फोर्स

गाजीपुर। मुख्तार अंसारी के करीबी भीम सिंह के घर में बुधवार की रात अचानक गोलियां चलने से न्यू प्रोफेसर कॉलोनी गोराबाजार में सनसनी फैल गई। मौके पर पहुंची पुलिस भीम सिंह तथा उनके बेटे अमन सिंह तथा भतीजा बंटू सिंह को कोतवाली उठा लाई। इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ।

यह भी पढ़ें—मुख्तार के ‘कोल मैनेजर’ को डबल झटका

भीम सिंह और बंटू सिंह का परिवार एक ही मकान में रहता है। दोनों परिवारों में कई दिनों से अनबन चल रही है। बताते हैं कि बंटू सिंह रात में करीब साढ़े नौ बजे घर लौटा और भीम सिंह के परिवार को नाहक गालियां देने लगा। उसकी इस हरकत पर भीम सिंह के बेटे ने उसे टोका तो वह मारपीट पर आमादा हो गया।

उसी बीच मकान से गोलियां चलने की आवाज सुन पड़ोसियों के भी कान खड़े हो गए। यहां तक कि गोलियों की आवाज कुछ ही दूर स्थित पुलिस कप्तान के बंगले तक पहुंची। फिर तो कुछ ही पल में बंगले पर तैनात पुलिस फोर्स भीम सिंह के मकान पर जा पहुंची। कहा जा रहा है कि गोलियों की आवाज बंगले में मौजूद पुलिस कप्तान डॉ. ओमप्रकाश सिंह के कानों तक भी पहुंची। उनके ही निर्देश पर बंगले की पुलिस फोर्स के साथ ही शहर कोतवाली की फोर्स भी भीम सिंह के मकान पर पहुंच गई। भीम सिंह और उनके बेटे तथा भतीजे को उठा कर कोतवाली ले गई। कुछ देर बाद पुलिस भीम सिंह के बेटे अमन को मेडिकल जांच के लिए जिला अस्पताल ले गई। मारपीट में उसे हल्की चोटें आई थी।

हालांकि यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि गोलियां किस असलहे से चली थीं। न्यू प्रोफेसर कॉलोनी के लोगों ने बताया कि आवाज पिस्टल की गोलियों जैसी थी। इस संबंध में गुरुवार की सुबह शहर कोतवाल विमल मिश्र से पूछा गया तो उन्होंने गोलियां चलने की बात से इ्न्कार किया लेकिन वह यह जरूर स्वीकार किए कि भीम सिंह तथा उनके बेटे व भतीजे को कोतवाली लाया गया है। अगर उनकी ओर से तहरीर मिलेगी तो एफआईआर दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

शहर कोतवाल से दोबारा संपर्क किया गया तो बताए कि इस मामले में किसी पक्ष से कोई तहरीर नहीं मिली। लिहाजा तीनों अभियुक्तों का गुरुवार की शाम शांति भंग में चालान कर दिया गया। बाद में वह सभी एसडीएम कोर्ट से छूट गए।

 

Related Articles

Back to top button