ब्रेकिंग न्यूजशासन-प्रशासन

मनचलों खबरदार! पकड़े जाने पर कानूनी सजा के साथ सामाजिक धिक्कार भी दिलवाएगी योगी सरकार

गाजीपुर। मनचलों के लिए बुरी खबर है। प्रदेश की योगी सरकार अब उन पर कतई रहम नहीं करेगी। पकड़े जाने पर उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई तो होगी। साथ ही उन्हें समाज भी धिक्कारे। इसका भी इंतजाम होने जा रहा है। इसके लिए उनके इस्तेहार भी सार्वजनिक स्थानों पर चस्पाए जाएंगे।

जिला पंचायत सभागार में शनिवार को सरकार के मिशन शक्ति के शुभारंभ पर प्रभारी मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने कहा कि सरकार की मंशा है कि शोहदों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए और उनके पोस्टर चौक-चौराहों पर चस्पा किए जाएं। ताकि समाज उनके असल चेहरे को जान ले। उन्होंने में कहा कि सरकार ने नारियों के सम्मान के लिए यह मिशन शक्ति शुरू की है। कानून में कठोर सजा के प्रावधान के बावजूद ऐसी हृदय विदारक घटनाएं निंदनीय हैं। यह पाश्चात्य संस्कृति, अग्रजों, मुगलों, मैकाले की शिक्षा पद्धति का दुष्परिणाम है। देश के बच्चों का पूर्व काल के सापेक्ष अपने माता-पिता से प्रेम, लगाव कम होता जा रहा है। वह पश्चात्यसंस्कृति में ढल रहे, जिससे हमारा समाज दूषित होता जा रहा है। आज जो समस्याएं खड़ी हैं, वह सरकार एवं पुलिस के बल पर नहीं रोकी जा सकतीं। इसके लिए सामाजिक क्रांति, वैचारिक आंदोलन, विचारों में परिवर्तन लाना होगा। कार्यक्रम में विधायक त्रैय अलका राय, सुनीता सिंह डॉ. संगीता बलवंत, एमएलसी विशाल सिंह चंचल, पुलिस कप्तान डॉ. ओम प्रकाश सिंह आदि भी महिलाओं तथा बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के लिए मिशन शक्ति के संबंध विचार व्यक्त किए।

…पर कांस्टेबल यह खौफनाक कदम उठाया क्यों

डीएम एमपी सिंह ने बताया कि मिशन शक्ति के तहत महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन तथा महिला अपराध व बाल अपराध के प्रति जागरुकता पैदा करने के लिए प्रत्येक सप्ताह के विशिष्ट कार्यक्रम भी आयोजित होंगे। अभियान के दौरान जनपद में महिलाओं एवं बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनने का प्रशिक्षण, सुरक्षा एवं सम्मान के प्रति जागरूकता प्रदान किया जाएगा। प्रथम चरण में इस अभियान को जागरूकता आधारित रखते हुए द्वितीय चरण में मिशन शक्ति के क्रियान्वयन पर बल दिया जाएगा। सभी संबंधित विभाग कन्वर्जेन्स मॉडल के माध्यम से इस विशेष अभियान में सहयोग प्रदान करेगें। डीएम ने कहा कि इस विशेष अभियान में एक समिति बनाकर विभिन्न रोल मॉडल का चयन किया जाएगा। इसमें ऐसी महिलाओं एवं बालिकाओं का चयन किया जाएगा जो सशक्तिकरण, भू्रण हत्या रोकने अभियान, उद्यमिता, शिक्षा, महिला अपराध रोकने इत्यादि इन क्षेत्रों में सफलता पाकर जनपद के लिए रोल मॉडल बनी हैं। उनका चयन रोल मॉडल के लिए किया जाए। इसके अतिरिक्त लैंगिक आधारित संवेदीकरण, ध्वनि संदेश, साक्षात्कार, प्रशिक्षण, थानों पर कार्यक्रम तथा ग्रामीण स्तर पर जागरूकता के लिए भी कार्यक्रम होंगे। डीएम ने कहा कि महिला एवं बाल अपराध की मॉनिटरिंग के लिए जनपद स्तर पर कमेटी सक्रिय रहेगें। उन्होंने कहा कि नारी सुरक्षा से संबंधित समस्त विभागों यह सुनिश्चित करना होगा कि प्राप्त शिकायतों में पीड़िता शिकायतकर्ता की पूर्ण संतुष्टि के स्तर तक कार्रवाई को गतिमान रखा जाए। मिशन शक्ति शारदीय नवरात्रि से वासंतिक नवरात्रि तक चलेगा।

कार्यक्रम के अंत में प्रभारी मंत्री ने उपस्थित लोगों को जिम्मेदार नागरिक के रूप में रहने हेतु सुरक्षा शपथ दिलाई। उसके साथ ही मिशन शक्ति में प्रचार-प्रसार के लिए एलईडी वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उसके बाद प्रभारी मंत्री जिला महिला चिकित्सालय पहुंचे। 100 बेड के भवन निर्माण के लिए भूमि पूजन किया। कार्यक्रम समापन पर सीडीओ श्रीप्रकाश गुप्त ने आभार व्यक्त किया। संचालन नेहरू युवा केंद्र के एसीटी सुभाष प्रसाद ने किया।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort