ब्रेकिंग न्यूजराजनीति

‘भारत बंद’ बेअसर, हाउस अरेस्ट रहे बंद समर्थक कई नेता, सड़क पर उतरे सपाइयों, कांग्रेसियों को पुलिस उठाई

गाजीपुर। किसान बिल के विरोध में मंगलवार को भारत बंद गाजीपुर में लगभग बेअसर रहा। शहरी सहित ग्रामीण इलाकों में जनजीवन सामान्य दिनों की ही तरह रहा। सड़कों पर भी यातायात जारी रहा। बाजार, सब्जी-फल और गल्ला मंडियों में भी आम दरफ्त दिखी। संवेदनशील स्थानों पर पुलिस के जवान अलर्ट रहे।

यह भी पढ़ें—मुख्तार का पिंड नहीं छोड़ेगा प्रशासन!

बंद समर्थक दलों के बड़े नेता सुबह ही हाउस अरेस्ट कर लिए गए थे। बावजूद सपा विधायक डॉ. विरेंद्र यादव अपने आवास जैतपुरा से मौजूद पुलिस बल को धत्ता बताते हुए सड़क पर उतरने की कोशिश में उन्हें रविंद्र यादव, सूर्यनाथ यादव, अवधेश यादव, अरुण यादव आदि के साथ गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले जाया गया।

इसी तरह सपाजनों की एक टीम शहर के विकास भवन चौराहे से मेहरौली के लिए पदयात्रा शुरू की लेकिन लॉर्ड कर्नवालिस मकबरे के पास उनको भी पुलिस गिरफ्तार कर पुलिस लाइन पहुंचा दी। उनमें पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा, सदर विधानसभा इकाई अध्यक्ष तहसीन अहमद, उपाध्यक्ष कमलेश यादव, मीडिया प्रभारी अरुण कुमार श्रीवास्तव, जिला सचिव आमिर अली, डॉ. समीर सिंह, अमित सिंह लालू, अतीक अहमद राइनी, सत्यपाल यादव, नरेंद्र कुशवाहा, इंद्रजीत यादव, संतोष यादव आदि थे।  विरोध प्रदर्शन शुरू की लेकिन पुलिस बल उन्हें उठा कर पुलिस लाइन पहुंचा दिया।

उधर कांग्रेसी भी अपने सिटी स्टेशन स्थित कार्यालय से निकले लेकिन उन्हें भी गिरफ्तार कर पुलिस लाइन पहुंचा दिया गया। उनमें नगर अध्यक्ष सुनिल साहू, जनक कुशवाहा आदि थे।

प्रशासन ने 50 नेताओं को किया था चिन्हित

भारत बंद को लेकर प्रशासन पहले से ही होमवर्क कर लिया था। इसके लिए बंद समर्थक दलों के करीब 50 बड़े नेताओं की सूची भी बनाने के साथ ही उनपर कड़ी नजर रखी जा रही थी। सुबह के पहर में ही उनमें ज्यादातर को हाउस अरेस्ट कर लिया गया था। सूची में सपा जिलाध्यक्ष रामधारी यादव, पूर्व सांसद राधेमोहन सिंह आदि के अलावा किसान सभा के अध्यक्ष राजेंद्र यादव, विजय बहादुर सिंह, अमेरिका यादव आदि प्रमुख थे।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort