अपराधब्रेकिंग न्यूज

बरबरहना के मशहूर सिद्दीकी परिवार पर आफत, सात असलहे जब्त

गाजीपुर। शहर के मुहल्ला बरबरहना के मशहूर सिद्दीकी परिवार पर आफत आ गई है।

शहर कोतवाली पुलिस ने बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के गैंग से ताल्लुकात बताते हुए सिद्दीकी परिवार के कुल सात असलहों के लाइसेंस निलंबित कराने के साथ ही उन्हें मालखाने में जमा करा लिया है। असलहों में दो राईफल तथा पांच बंदूकें हैं। यह कार्रवाई बीते मंगलवार को हुई।निलंबित लाइसेंस परिवार के मुखिया डॉ.आजम कादरी के अलावा उनके चार बेटे मोहम्मद अली, रिजवान अली, मोहसिम तथा मुहम्मद शादाब और भाई मुहम्मद जाहिद के नाम से जारी हैं।

यह भी पढ़ें–जेल से लौटा घर, पुलिस फिर भेजी जेल

गंगा किनारे खड़े एम्पायर पर बुल्डोजर चलने की भी आशंका

सिद्दीकी परिवार का हमीद सेतु से सटे लंबे-चौड़े कैंपस में एम्पयार खड़ा है। उसमें शम्मे हुसैनी हॉस्पिटल एंड ट्रामा सेंटरसेंटर, पैरामेडिकल कॉलेज, रेस्टोरेंट वगैरह है। आरोप है कि यह पूरा कैंपस गंगा के तट को लेकर हाईकोर्ट की ओर से तय मानक के विपरीत बना है। मानक है कि गंगा तट से 200 मीटर के दायरे में कोई पक्का निर्माण नहीं होगा। खबर है कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने इसके लिए नोटिस दी है। उस नोटिस के विरुद्ध सीद्दीकी परिवार कोर्ट पहुंचा, लेकिन वहां से उसे कोई खास राहत नहीं मिली। उस दशा में सिद्दीकी परिवार के उस कैंपस की सलामती की गुंजाइश नहीं लगती।

…तब हममजहबी व्यापारी नेता के याराना का खामियाजा!     

कहते हैं कि नेता चाहे जिस जमात का हो उससे याराना काम बनाता है तो कभी काम बिगाड़ता भी है। सिद्दीकी परिवार के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है। इस परिवार का बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के गैंग से ताल्लुकात कब और कैसा है। इसका जवाब पुलिस के ही पास है, लेकिन शहर के लोग जानते हैं कि यह परिवार खालिस व्यापारी है और एक चर्चित हममजहबी व्यापारी नेता से उसका याराना है। उसी व्यापारी नेता के कहने पर सिद्दीकी परिवार ने पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव के अभियान में मौजूदा सांसद अफजाल अंसारी के कई बड़े-छोटे कार्यक्रमों की मेजबानी की थी। जाहिर है कि अफजाल अंसारी मुख्तार अंसारी के बड़े भाई हैं और अब जबकि सिद्दीकी परिवार पर कार्रवाई हुई है तो कुछ लोग इसे उसी चुनावी एंगल से जोड़ कर देख रहे हैं।

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort