अपराधब्रेकिंग न्यूज

फर्जी डिग्री और हवस का नेक्सस बेनकाब

गाजीपुर। हवस के शातिर खिलाड़ियों का एक ऐसा गैंग जिनकी कारस्तानियों को जान हर कोई हैरान है। गैंग के निशाने पर सिर्फ कमसिन और रूरल बैकग्राउंड की शोख़ बालाएं होतीं। हवस के ये पुजारी एक के बाद एक जुर्म के पिच पर नाबाद गुनाहों को अंजाम देते रहे लेकिन शातिर अपराधियों के इस नैक्सस को जमानियां पुलिस ने तोड़ दिया। गैंग के चार सदस्य हत्थे चढ़ गए।

यह भी पढ़ें—अब बिना गार्ड छुक-छुक रेल

पूछताछ में इस गैंग की मोडस अपरेंडी जो सामने आई उसे सुन खुद पुलिस के भी होश फ़ाख्ता हो गए। मासूम बच्चियों को शिकार बनाने वाला गैंग दुष्कर्म करने की नियत से अपने शिकार बनाए गए बच्चियों की फर्जी डीग्री बना उम्र बढा़ देते थे। ऐसा कर वह कानून के आंखों में धूल झोंकने की नीयत रखते थे। मासूम के संग दुष्कर्म के मामलों में पॉक्सो एक्ट के तहत धाराएं लगा कार्रवाई का प्रावधान है। ऐसे मामलों के दोषियों को उम्र कैद तक की सजा मिलती है। इस कानूनी जानकारी का इस्तेमाल गैंग अपने बचाव के लिए ‘शिकार’ के नाम फर्जी मार्कशीट बना कर करता था। फर्जी मार्कशीट में उसकी उम्र बढ़ा देता और उस आधार पर कोर्ट में पॉक्सो एक्ट से अपना बचाव की कोशिश का जुगत लगाता।

गैंग का क्राइम सिंडिकेट पूर्वांचल सहित दिल्ली-एनसीआर तक फैला था। गैंग का ताज़ा शिकार गैंग लीडर रोहित शर्मा के होम टर्फ जमानियां से ही इत्तेफाक रखता है। गैंग इसके साथ ही अन्य लोगों को भी फर्जी डिग्री के बिनाह पर सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देता था।

जमानियां पुलिस अपने विजिलेंट इन्वेस्टीगेशन से इस गैंग को बस्ट कर दिया।

एसएचओ जमानियां राजीव कुमार सिंह ने बताया कि गैंग के कुल चार सदस्य गिरफ्तार हुए हैं। उनमें गैंग लीडर रोहित शर्मा जमानियां कोतवाली के चांदपुर नई बस्ती का रहने वाला है जबकि अयान उर्फ फैजान अंसारी बिहार कालोनी नियर जामा मस्जिद थाना डीएलएफ जनपद गाजियाबाद, मोहम्मद फैज खान औरंगाबाद लहनपुरा थाना सिगरा जनपद वाराणसी तथा जमानियां के ही कसेरा पोखरा का उदयनारायन है। उनके पास से विक्टिम के नाम से सीबीएसई की हाईस्कूल की तीन अदद फर्जी मार्कशीट बरामद हुई।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort