अपराधब्रेकिंग न्यूज

पौत्री संग थाने पहुंच कुकर्मी बेटे का खोला राज

गाजीपुर। पौत्री के मुंह से अपने छोटे बेटे का कुकर्म सुन वृद्ध खुद को रोक नहीं पाया और पौत्री को लेकर थाने पहुंच गया। जहां पुलिसकर्मी भी कुकर्म का किस्सा सुन दंग रह गए।

यह भी पढ़ें—मुहब्बत, बेवफाई और धोखा

यह शर्मनाक किस्सा सादात थाना क्षेत्र का है। उस क्षेत्र के एक गांव का वह वृद्ध सोमवार की सुबह किशोरवय पौत्री संग थाने पर पहुंचा। बताया कि उसका छोटा बेटा योगेश राजभर पिछले 11 माह से पौत्री का यौन शोषण कर रहा है। पौत्री आठ माह से पेट से है। अपने कुकर्म पर पर्दा डालने के लिए पांच माह पहले वह पौत्री को एक मंदिर में ले गया और अपने एक साथी अतुल कुमार से उसकी शादी भी करा दिया। अतुल सैदपुर कोतवाली के औड़िहार खुर्द का रहने वाला है। शादी के बाद भी अतुल पौत्री को अपने घर नहीं ले गया। योगेश विवाहित है। पौत्री का बाप पेशे से दर्जी है और अतुल उसके यहां सिलाई सिखता था।

पीड़िता ने बताया कि उसका चाचा एक दिन अकेले में पाकर उसे दबोच लिया था और मनमानी करने के बाद डराया धमकाया था कि अगर वह बात किसी और को बताई तो फिर उसकी खैर नहीं होगी। उसके बाद वह डरती रही और चाचा के कुकर्मो को चुपचाप झेलती रही। यहां तक कि चाचा अपने साथी अतुल से भी उसको जोड़ दिया। उसी बीच उसे गर्भ भी ठहर गया। यह जानने के बाद चाचा ने अतुल से शादी करने के लिए उसे बाध्य कर दिया। वक्त बीतने के साथ पीड़िता अपने आठ माह के गर्भ का हवाला देते हुए अतुल को अपने घर ले चलने को कही। तब अतुल ऐसा करने से साफ मना कर दिया। अतुल के इन्कार से पीड़िता अपने को ठगा महसूस की और आखिर में अपने दादा तथा मां-बाप को आपबीती सुनाई।

एसओ सादात सूर्यप्रकाश मिश्र ने बताया कि पूछताछ में पीड़िता के गर्भ के लिए योगेश और अतुल एक दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। इसकी पुष्टि डीएनए जांच से ही संभव होगी। पीड़िता के दादा की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर दोनों आरोपितों को बुधवार को तड़के क्षेत्र के कटयां मोड़ से गिरफ्तार कर लिया गया।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort