अपराधब्रेकिंग न्यूजशिक्षा

पूर्व प्राचार्य की पेंशन से वसूली जाएगी गबन की मय ब्याज रकम, विभागीय निदेशक का आदेश

गाजीपुर। खरडीहा डिग्री कॉलेज में हुए गबन की रकम और उसके ब्याज की वसूली पूर्व प्राचार्य डॉ.द्वारिका नाथ राय की पेंशन से होगी। निदेशक उच्च शिक्षा (पेंशन अनुभाग) ने गुरुवार को गाजीपुर के वरिष्ठ कोषाधिकारी को इस आशय की चिट्ठी भेजी है।

मय ब्याज गबन की कुल राशि आठ लाख 77 हजार 253 रुपये की है। निदेशक ने कहा है कि डॉ.राय की अब डिग्री कॉलेज से कोई लेनदारी नहीं है। उस दशा में ब्याज की राशि की वसूली उनकी पेंशन से होगी।

मालूम हो कि डॉ.राय खरडीहा डिग्री कॉलेज के 1997 से 2013 तक प्राचार्य थे। 2007 में कॉलेज स्टाफ के सामूहिक बीमा की रकम हड़पने का उन पर आरोप लगा। उस मामले में उनके विरुद्ध कॉलेज मैनेजमेंट ने एफआईआर दर्ज कराई। उसके बाद उन्होंने कोर्ट से जमानत कराई।

यह मामला इतना तूल पकड़ा था कि विधानसभा की लोक लेखा समिति तक पहुंच गया था। लोक लेखा समिति ने भी उस मामले को संज्ञान में लेते हुए गबन की रकम मय ब्याज वसूली का आदेश दिया। उधर डॉ.राय ने खुद पर लगे गबन के रकम की राशि संबंधित खाते में भेज दी थी। उसी आधार पर मैनेजमेंट की ओर से दर्ज केस में कोर्ट ने उनको जमानत भी दे दी थी। फिर वह इस पूरे मामले को कोर्ट में ले गए। जहां आज भी यह मामला विचाराधीन है।

अब जबकि पेंशन से मय ब्याज गबन की राशि की वसूली का आदेश हुआ है तो इस बाबत `आजकल समाचार`  ने डॉ.राय से फोन पर संपर्क किया। उन्होंने छूटते ही कहा कि जब मामला कोर्ट में है तब यह आदेश कोर्ट की अवमानना के दायरे में आता है और वह इसके लिए सभी संबंधित लोगों को कोर्ट में तलब कराएंगे।

यह भी पढ़ें–…पर शिक्षक मायूस

 

 

 

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort