परिवहनब्रेकिंग न्यूज

पूर्वोत्तर रेलवे के जीएम से मिले भाजपाई, पैसेंजर ट्रेनों के परिचालन की मांग उठाई

गाजीपुर। दुल्लहपुर में निर्माणाधीन टावर वैगन शेड का शुक्रवार को जायजा लेने पहुंचे पूर्वोत्तर रेलवे के जीएम विनय कुमार त्रिपाठी को भाजपा नेताओं ने पांच सूत्री ज्ञापन सौंपा।

यह भी पढ़ें—ऐसा! ‘चीरहरण’ की कोशिश

ज्ञापन में दुल्लहपुर रेलवे स्टेशन पर पूर्व में तत्कालीन रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा की ओर से शुरू कराए गए प्रमुख ट्रेनों के ठहराव दोबारा सुनिश्चित कराने के साथ ही वाराणसी-गोरखपुर के बीच इंटरसिटी एक्सप्रेस व पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन फिर शुरू कराने, रेलवे किनारे बसे लोगों की जल निकासी के लिए निर्माणाधीन टावर वैगन शेड के पूर्वी छोर से नाला निर्माण एवं दुल्लहपुर रेलवे स्टेशन पर अतिरिक्त सफाई कर्मियों की तैनाती के साथ ही व्यवसायिक दृष्टि से आवंटित दुकानदारों को सुव्यवस्थित करने और अतिक्रमण हटाने की मांग शामिल थी। जीएम के साथ आए मंडल प्रबंधक ने नाला निर्माण शुरू कराने का आदेश दिया।

जीएम को ज्ञापन सौंपने वाले भाजपा नेताओं में जिला पंचायत प्रतिनिधि अनिल पांडेय के अलावा मंडल अध्यक्ष मनोज यादव, पूर्व जिला मंत्री राजेश सोनकर, मंडल महामंत्री श्रवण सिंह, कोषाध्यक्ष रविंद्र गौर, मंडल मंत्री मनजीत मद्धेशिया, अजय पांडे आदि थे।

6.24 एकड़ में बन रहे टावर वैगन शेड की कार्य प्रगति का जीएम ने निरीक्षण किया। उन्होंने 3780 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में हो रहे पक्के निर्माण को भी देखा। रेल पटरी के हो रहे दोहरीकरण के अनुरूप टावर वैगन शेड की कनेक्टिविटी विकशित करने का निर्देश दिया। जीएम ने आरवीएनएल के अधिकारियों से दुल्लहपुर स्टेशन की यार्ड रिमॉडलिंग पर भी चर्चा की।

जीएम के साथ वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक रोहित गुप्त, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर (समन्वय) राजीव अग्रवाल, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक संजीव शर्मा, कार्मिक अधिकारी समीर पाल, सिगनल-दूरसंचार इंजीनियर त्रयंबक तिवारी, विद्युत इंजीनियर सत्येंद्र यादव, यांत्रिक इंजीनियर सत्यप्रकाश श्रीवास्तव आदि भी थे।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort