ब्रेकिंग न्यूजराजनीति

पराली जलाने को लेकर किसानों पर कार्रवाई सरासर जुल्मः अफजाल

गाजीपुर। पराली जलाने पर कार्रवाई के डर से बाराबंकी में किसान की मौत की खबर को सासंद अफजाल अंसारी अति चिंतनीय मानते हैं। उनका कहना है कि पराली जलाने को लेकर कार्रवाई किसानों संग एकदम ज्यादती और जुल्म है।

सांसद ने कहा कि बाराबंकी की घटना बानगी भर है। हकीकत यही है कि इस कार्रवाई को लेकर हर किसान खौफ में है। सदमे में है। उन्होंने कहा कि किसानों का हमदर्द बनने का सरकार का दावा सरासर बेमानी है। हकीकत यही है कि सरकार को किसानों की नहीं पूंजीपतियों, उद्योगपतियों की सहूलियत की फिक्र है।

सांसद ने अपनी इस बात को और पुख्ता बनाते हुए कहा कि सरकार अब धुएं का भी बंटवारा कर दी है। हर रोज़ कारखानों की चिमनियों से निकल रहा धुआं को विकास से जोड़ दिया गया है और खेत से एक रोज भी धुआं निकला तो वह बेचारे किसानों के लिए वह अजाब साबित हो रहा है।

मालूम हो कि अफजाल अंसारी कृषि मंत्रालय की संसदीय समिति के सदस्य भी हैं। देखा जाए तो उनका यह कथन अपनी पार्टी बसपा लाइन पर है। बसपा मुखिया मायावती भी कह चुकी हैं कि प्रदेश में फैले प्रदूषण को लेकर पराली जलाने की आड़ में किसानों के साथ हो रही जुल्म-ज्यादती अति निंदनीय है। इस मामले में सरकार को कोई भी कार्रवाई से पहले, किसानों को जागरूक करने और जरूरी मदद मुहैया करानी चाहिए।

 

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort