ब्रेकिंग न्यूजशासन-प्रशासन

दो संपर्क मार्गो के निर्माण में हुए घोटाले की होगी जांच

गाजीपुर। कासिमाबाद तथा मुहम्मदाबाद ब्लाक में गांवों के दो संपर्क मार्गो के निर्माण में हुए घोटाले की जांच और  दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई  होगी। यह आश्वासन शासन की ओर से गाजीपुर के लिए नियुक्त नोडल अधिकारी व पीडब्ल्यूडी के सचिव समीर वर्मा ने दिया।

यह भी पढ़ें—कनेरी कांड: यदुवंशियों में फूट!

गाजीपुर के दो दिवसीय दौरे पर आए समीर वर्मा ने जिला मुख्यालय पर खुद से मिलने आए पूर्व जिला पंचायत सदस्य अनुराग सिंह की शिकायत को गंभीरता से सुना। अनुराग सिंह ने बताया कि व्यापार विकास निधी के तहत कठवामोड़- नोनहरा मार्ग स्थित भागलपुर गांव और युसूफपुर-मऊ मार्ग पर कमालपुर तक बने संपर्क मार्गों के निर्माण में घोर अनियमितता बरती गई। इन दोनों कार्यो में लाखों रुपये हड़प लिए गए। इनके लिए कुल करीब एक करोड़ 37 लाख रुपये मंजूर थे। दोनों के निर्माण की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी के निर्माण खंड तृतीय को दी गई थी।

अनुराग सिंह ने बताया कि उन्होंने इसकी शिकायत तत्कालीन डीएम से की थी। हैरानी यह कि इसकी जांच की जिम्मेदारी भी निर्माण खंड तृतीय के एक्सईएन जितेंद्र कुमार को ही सौंप दी गई थी। उसके बाद विभागीय इंजीनियरों ने गड़बड़ घोटाले को ढंकने की भरसक कोशिश शुरू कर दी थी।

अनुराग सिंह ने बताया कि उनकी शिकायत को पीडब्ल्यूडी डाकबंगले में रुके नोडल अधिकारी ने मौके पर मौजूद डीएम व सीडीओ से इस बात पर जानकारी मांगी। सीडीओ ने बताया कि यह मामला उनके भी संज्ञान में आया था। नोडल अधिकारी ने आदेशित किया कि इसकी जांच कर उन्हें रिपोर्ट भेजी जाए।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort