ब्रेकिंग न्यूजराजपाट

त्रि-स्तरीय पंचायत चुनावः यूपी बोर्ड परीक्षा से पहले कराने की तैयारी!

गाजीपुर। हालांकि त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर योगी सरकार की ओर से अधिकृत रूप से कुछ कहा नहीं गया है लेकिन सरकार और राज्य निर्वाचन आयोग की गतिविधियों से जानकार यह मान रहे हैं कि संभव हो कि यूपी बोर्ड की परीक्षा से पहले फरवरी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की प्रक्रिया संपादित हो जाए। गाजीपुर में 16 क्षेत्र पंचायत है जबकि कुल 1237 ग्राम पंचायतें हैं। इनके कार्यकाल 25 दिसंबर को पूरा हो रहा है। जिला पंचायत का कार्यकाल भी अगले साल 13 जनवरी तक है।

यह भी पढ़ें–ग्राम प्रधान की जय-जय!

गाजीपुर को छोड़ कर प्रदेश के 42 जिलों में नगर निकायों की सीमा का विस्तार हुआ है। जाहिर है कि उनके नगर निकायों से सटी ग्राम पंचायतों के हिस्से उसमें जुड़े हैं। उस दशा में वहां ग्राम पंचायतों का पुनर्गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उसके लिए प्रस्ताव लेने का काम शुक्रवार को पूरा हो गया। अब 25 नवंबर तक ग्राम पंचायतों के  पुनर्गठन व परिसीमन के लिए जिला स्तर पर तैयार प्रस्ताव का अनंतिम प्रकाशन होगा। उसके बाद दो दिसंबर तक उस पर आपत्तियां प्राप्त की जाएंगी।

उधर प्रदेश चुनाव आयोग का पंचायत चुनाव के लिए मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण का काम चल रहा है। मतदाता सूचियों में गैरजरूरी नाम हटाए जा रहे हैं और नए नाम जोड़े जा रहे हैं। उसके बाद मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 29 दिसंबर को कर दिया जाएगा।

यह भी संभव है कि त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव में ई-स्टांप का इस्तेमाल किया लाए। उम्मीदवारों को नामांकन में ई-स्टांप उपलब्ध कराए जाएंगे। फिर इस बार बूथों की संख्या भी बढ़ाई जाए। अनुमान लगाया जा रहा है कि 10-15 फीसद मतदाता बढ़ेंगे। वैसे तो चुनाव को लेकर यह संभावना ही जताई जा रही है लेकिन पंचायतों में ताल ठोक रहे लोग अपना प्रचान अभियान शुरू कर दिए हैं। यहां तक कि छठ पूजन में व्रतियों और श्रद्धालुओं को  सुविधा मुहैया कराने के लिए उनमें होड़ लगी थी।

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort