ब्रेकिंग न्यूजराजनीति

जिला पंचायत: चेयरमैन का फिर चुनाव लड़ेंगी आशा यादव!

गाजीपुर। वैसे तो त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर सरकार की ओर से फिलहाल कोई संकेत नहीं हैं लेकिन कोरोना की दहशत के बावजूद पंचायतों में राजनीतिक सरगर्मी शुरू हो गई है। चुनाव मैदान में उतरने के मंसूबे बना रहे राजनीतिक कार्यकर्ता अपने प्रचार अभियान में जुट गए हैं। होर्डिंग, बैनर, पोस्टर टांगने के साथ ही उनका जनसंपर्क का काम भी शुरू हो गया है। इसी क्रम में यह सवाल भी उठने लगा है कि जिला पंचायत की मौजूदा चेयरमैन आशा यादव क्या दोबारा इस प्रतिष्ठापरक कुर्सी के लिए दोबारा अपनी किस्मत आजमाएंगी।

क्या वाकई! स्कूल खुलेंगे

इस सवाल के जवाब के लिए ‘आजकल समाचार’ ने उनके पति पूर्व ब्लाक प्रमुख विजय यादव को सीधे फोन लगाया। उन्होने साफ कहा कि यह सब ख्याली सवाल हैं। फिर त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर अभी सरकारी स्तर पर ही कोई कवायद शुरू नहीं हुई है। तब इस आशय के सवालों के जवाब भी भविष्य के गर्त में हैं। रही बात आशा यादव के दोबारा चेयरमैन के चुनाव लड़ने की बात तो इसका फैसला उनके जिला पंचायत सदस्य निर्वाचन क्षेत्र और चेयरमैन के पद की आरक्षण प्रक्रिया पर निर्भर करेगा। आशा यादव का चेयरमैन पद का कार्यकाल 13 जनवरी 2021 तक है।

मालूम हो कि आशा यादव जिला पंचायत में मरदह प्रथम सीट से पहुंची हैं। साल 2015 में जिला पंचायत सदस्य के लिए हुए आम चुनाव में आशा यादव को कुल पांच हजार 629 वोट मिले थे जबकि उनकी निकटतम प्रतिद्वंद्वी रिंकू को चार हजार 126 वोट पर ही संतोष करना पड़ा था। हालांकि चेयरमैन के आम चुनाव में वीरेंद्र यादव निर्वाचित हुए थे लेकिन 2017 में विधानसभा चुनाव में वह जंगीपुर सीट से विधायक चुने जाने के बाद चेयरमैन के पद से इस्तीफा दे दिए। उसके बाद हुए उपचुनाव में आशा यादव चेयरमैन चुनी गईं।   

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort