अपराधब्रेकिंग न्यूज

गाजीपुर की बेटी ने बलिया में की खुदकुशी, मनियर नगर पंचायत की थी ईओ

गाजीपुर। भांवरकोल थाने के कनुआन गांव की रहने वाली मणिमंजरी राय (30) ने सोमवार की देर शाम खुदकुशी कर ली। वह लोअर पीसीएस अधिकारी थी और बलिया की मनियर नगर पंचायत के ईओ पद पर तैनात थी। उसका दाह संस्कार बलिया में ही मंगलवार को कर दिया गया। मुखाग्नि उसके पिता जयठाकुर राय ने दी। वह भी बलिया के सहकारी बैंक की कोटवा नारायणपुर शाखा में सहायक प्रबंधक हैं। दाह संस्कार के वक्त उन्होंने मीडिया कर्मियों से बातचीत में अपनी बेटी को बहादुर बताते हुए कहा कि उसकी मौत आत्महत्या नहीं हत्या है। वह इस मामले में पुलिस को तहरीर देंगे।

यह भी पढ़ें–योगी सरकार के प्रोजेक्ट पर यह गुंडई!

मणिमंजरी अविवाहित थीं। सरकारी सेवा में आने के बाद करीब दो साल पहले मनियर नगर पंचायत में तैनात हुई थीं। बलिया से मिली खबर के मुताबिक वह जिला मुख्यालय बलिया के आवास विकास कॉलोनी में किराए के मकान में रहती थीं। घटना से पहले वह अपने सहपाठी रहे और बलिया के बैरिया तहसील में तैनात नायब तहसीलदार को फोन कर बताईं कि वह अपनी जिंदगी से उब चुकी हैं और आत्महत्या करने जा रही हैं। उसके बाद उन्होंने फोन काट दिया था। मणिमंजरी की वह बात सुन नायब तहसीलदार घबड़ा गए और बलिया जिला मुख्यालय पर रहने वाले अपने तथा मणिमंजरी के समकक्ष अधिकारियों को जानकारी देते हुए उनके आवास पर पहुंचने को कहे। वह अधिकारी जबतक मौके पर पहुंचते तब तक सबकुछ खत्म हो चुका था।

आवास का दरवाजा तोड़ा गया। कमरे में छत के पंखे से मणिमंजरी की लाश लटक रही थी। अपने गांव की इस होनहार बेटी की मैत की खबर से हतवाक हैं। उन्हें भी मणिमंजरी की आत्महत्या की बात हजम नहीं हो रही है। मणिमंजरी अपने मां पिता की तीन संतानों में सबसे छोटी थी। बड़े भाई बिजय राय किसी निजी कंपनी में इंजीनियर हैं और छोटा भाई अभी पढ़ाई कर रहा है। मणिमंजरी साल 2018 में प्रादेशिक प्रशासनिक सेवा में शामिल हुई थीं।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort