ब्रेकिंग न्यूजराजनीति

मुहम्मदाबाद क्षेत्र पंचायत की बहुप्रतीक्षित बजट बैठक का बहिष्कार कर पूर्व प्रमुख ने दिया धरना

गाजीपुर। मुहम्मदाबाद क्षेत्र पंचायत की  गुरुवार को हुई बहुप्रतीक्षित बजट बैठक का पूर्व प्रमुख चंदा यादव ने बहिष्कार कर धरना दिया। वह बैठक स्थगित करने की मांग कर रही थीं।

उनका कहना था कि नियमतः बैठक की सूचना सदस्यों को 15 दिन पहले देनी चाहिए लेकिन इसकी सूचना उन्हें मात्र एक दिन पहले दी गई। वह भी तब जब समाचार पत्र में प्रस्तावित बैठक की प्रकाशित सूचना के बाद उन्होंने खुद इस बाबत बीडीओ से बात की। इस सवाल पर कि बैठक की सूचना कितने दिन पहले देनी चाहिए। वह कुछ नहीं बोले। फोन काट दिए। दोबारा फोन नहीं उठाए। बुधवार को उनके यहां आकर एक ब्लाक कर्मी बैठक की सूचना प्राप्त कराया। यह सरासर मनमानी है। पंचायत राज व्यवस्था की उपेक्षा है। इसे वह हरगिज बर्दाश्त नहीं करेंगी।

यह भी पढ़ें–कप्तान हुजूर! सवाल यह भी  

उधर चंदा यादव के इस विरोधी कदम को मौजूदा प्रमुख रामकृत यादव ने राजनीतिक स्टंट कहा। उन्होंने कहा कि कुछ त्रुटी के कारण उनको सूचना नियमानुसार नहीं पहुंच पाई। यह बात संज्ञान में आने के बाद पूर्व प्रमुख को सूचना दी गई और वह पहुंची भी। उनके अलावा कोरम से अधिक सदस्योंं और ग्राम प्रधानोंं को मिलाकर करीब 175 की उपस्थिति दर्ज हुई।

बीडीओ सुशील कुमार सिंह ने कहा कि सभी माननीय सदस्यों को विधिवत बैठक की सूचना दी गई थी। मानवीय भूलवश सदस्य चंदा यादव को वह सूचना प्रेषित नहीं हो पाई थी लेकिन अन्य माननीय सदस्यों के साथ व्हाट्सअप ग्रुप में उनको भी सूचना दी गई। उन्होंने चंदा यादव की इस बात को भी खारिज किया कि क्षेत्र पंचायत की बैठक ढाई-तीन साल बाद आहूत थी। बताए कि करीब एक साल पहले बैठक हुई थी। इस बार की बैठक में तीन करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी गई।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort