अपराधब्रेकिंग न्यूज

गहमर में चोरों का राज, ताबड़तोड़ घटनाओं से ग्रामीणों में दहशत

गाजीपुर। गहमर थाना क्षेत्र में चोर सक्रिय हैं। पुलिस निष्क्रिय है। ग्रामीण दहशत में हैं।

हालिया घटना बीते शुक्रवार की रात गहमर गांव के भीखमराय पट्टी की है। जहां चोरों ने फौजी विरेंद्र सिंह के घर का ताला तोड़ कर लंबा हाथ मारा। लाइसेंसी बंदूक सहित लाखों रुपये के जेवर, बर्तन वगैरह उठा ले गए लेकिन पुलिस अब तक कुछ नहीं कर पाई है।

यह भी पढ़ें—नशे में धुत्त नायब दारोगा, गुस्से में प्रमुख प्रतिनिधि

ग्रामीणों का कहना है कि गहमर पुलिस की नाकामी का यह कोई पहला उदाहरण नहीं है। कुछ ही दिन के भीतर फौजी सुजीत कुमार तिवारी, रेल कर्मी राकेश मिश्र, पूर्व फौजी शिवजी सिंह, सुदामा उपाध्याय के घर हुई चोरी की घटनाओं का भी पर्दाफाश नहीं हो पाया। इसी तरह कामाख्या धाम स्थित वन विभाग के गेस्ट हाउस से इन्वर्टर, बैटरी चोरी हो चुकी है। ग्रामीणों का आरोप है कि एसएचओ गहमर विमल मिश्र चोरी की ज्यादातर घटनाओं की एफआईआर ही दर्ज नहीं करने देते। पीड़ितों को थाना मुख्यालय से डांट डपट कर उल्टे पांव भगा देते हैं। विमल मिश्र जब से थाना संभाले हैं तब से अपराधी बेखौफ हो गए हैं। क्षेत्रीय विधायक का वरदहस्त हासिल होने के कारण वह राजनीतिक कार्यकर्ताओं को भी नहीं खतियाते हैं। यहां तक कि सत्ताधारी पार्टी भाजपा कार्यकर्ताओं की जायज पैरवी भी नहीं सुनते हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं का कहना है कि खुद के सिर पर विधायक का हाथ होने से एसएचओ गहमर भले चैन की बंशी बजा रहे हों लेकिन इलाके के ग्रामीणों की चैन की नींद हराम हो गई है। ग्रामीणों में इसका संदेश गलत जा रहा है। ग्रामीण इसके लिए प्रदेश सरकार को कोस रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort