ब्रेकिंग न्यूजराजनीति

एक साथ होगा त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव!

गाजीपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव एक साथ कराने के पक्ष में हैं। पंचायती राज विभाग इसकी तैयारी में जुट गया है।

यह भी पढ़ें—अंसारी बंधुओं पर बोले सुभासपा अध्यक्ष

विभाग के एक उच्च पदस्त सूत्र ने बताया कि तैयारी मार्च तक चुनाव संपादित कराने की है। राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से चल रहे मतदाता सूची  पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 22 जनवरी हो जाएगा जबकि सरकार की कोशिश है कि पंचायतों के वार्डों की आरक्षण प्रक्रिया हर हाल में फरवरी के तीसरे सप्ताह तक पूरी कर ली जाए। यह प्रक्रिया पूरी करने के बाद सरकार इसकी जानकारी राज्य निर्वाचन आयोग को देगी। आयोग उसके बाद चुनाव का कार्यक्रम घोषित करेगा। आरक्षण की प्रक्रिया का फार्मुला क्या होगा। फिलहाल यह तय नहीं है। पिछले चनाव में क्षेत्र तथा जिला पंचायत के वार्डों का आरक्षण चक्रानुक्रम में हुआ था जबकि ग्राम पंचायतों की आरक्षण प्रक्रिया शून्य से हुई थी।

सूत्रों ने बताया कि सरकार त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव चार चरणों में कराने के पक्ष में है। ग्राम, क्षेत्र और जिला पंचायत का चुनाव एक साथ होने पर मतदाता को चार मतदान पत्रों पर मुहर लगानी होगी। ग्राम पंचायत सदस्य और क्षेत्र पंचायत तथा जिला पंचायत के लिए अलग-अलग बूथ बनेंगे।

मालूम हो कि मौजूदा ग्राम पंचायतों का कार्यकाल 25 दिसंबर और क्षेत्र पंचायत का कार्यकाल 14 जनवरी को खत्म हो रहा है। अब माना जा रहा है कि सरकार ग्राम प्रधानों का कार्यकाल खत्म होने के बाद एडीओ पंचायतों को ग्राम पंचायतों की जिम्मेदारी बतौर प्रशासक सौंप देगी। इसी तरह क्षेत्र पंचायतों का कार्यकाल खत्म होने पर प्रशासक के रूप में संबंधित एसडीएम प्रमुख का चार्ज ले लेगें।

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort