अपराधब्रेकिंग न्यूजराजनीति

अतुल राय प्रकरणः अब एसपी सिटी वाराणसी करेंगे जांच!

गाजीपुर। सांसद घोषी (मऊ) अतुल राय के मामले में दोबारा पुलिस विवेचना होगी। खबर है कि वरिष्ठ आईपीएस अमिताभ ठाकुर की ओर से सोशल मीडिया के जरिये इस ओर ध्यान दिलाए जाने के बाद एसएसपी वाराणसी ने सीओ भेलूपुर की रिपोर्ट को संज्ञान में लिया है और इसकी जांच की जिम्मेदारी एसपी सिटी वाराणसी को दी है।

वरिष्ठ आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने शुक्रवार को सोशल मीडिया में अपना वीडियो जारी कर इस मामले को प्रमुखता से उठाया। कहा कि एसएसपी वाराणसी के पास लंबित सीओ भेलूपुर की जांच रिपोर्ट पर आगे की कार्रवाई हो। साथ ही सांसद घोषी अतुल राय पर लगे यौन शोषण के फर्जी आरोप और सोनभद्र जेल से उम्रकैद की सजा भुगत रहे कुख्यात अपराधी अंगद राय की ओर से हुई हजारों फोन कॉल की जांच के अलावा सीओ भेलूपुर के विरुद्ध अपशब्दों के इस्तेमाल करने वालों पर कार्रवाई हो।

यह भी पढ़ें–अब मुख्तार के मेराज की बारी

मालूम हो कि बीते आठ अगस्त को एसएसपी वाराणसी को भेजी गई अपनी 11 पेजी रिपोर्ट में सीओ भेलूपुर ने अतुल राय पर लगे यौन शोषण के आरोप को संदिग्ध करार दिया है और इस मामले की दोबारा विवेचना की जरूरत बताई है। अतुल राय के पिता भरत सिंह के आवेदन और उसके साथ उपलब्ध कराए गए कुल आठ ऑडियो क्लिप के संदर्भ में सीओ भेलूपुर ने अपनी वह रिपोर्ट दी है। रिपोर्ट में ऑडियो क्लिप की फॉरेंसिक जांच का भी हवाला देते हुए साफ कहा गया है कि अतुल राय को यौन शोषण के मामले में झूठा फंसाया गया और इसकी साजिश कथित पीड़िता यूपी कॉलेज की पूर्व छात्रनेता के साथ ही उसके मित्र सत्यम प्रकाश राय, अंगद राय तथा विजय शंकर तिवारी ने रची। लिहाजा इस पूरे प्रकरण की फिर से विवेचना जरूरी है। सीओ भेलूपुर ने अपनी रिपोर्ट में यह भी बताया है कि कथित पीड़िता अतुल राय से पहले साल 2015 में अमृतेश सिंह सब्बल पर भी वाराणसी के शिवपुर थाने में छेड़छाड़ का झूठा केस दर्ज कराई थी लेकिन बाद में उनसे सवा तीन लाख रुपये वसूल कर वह केस वापस ले ली थी। उस मामले में भी उसका साथी सत्यम राय संलिप्त था।

मालूम हो कि अतुल राय के ऐन चुनाव अभियान के वक्त यूपी कॉलेज की वह पूर्व छात्र नेता उन पर खुद के यौन शोषण का आरोप लगाते हुए पहली मई 2019 को एफआईआर दर्ज करा कर राजनीतिक धमाका कर दी थी। अतुल राय मूलतः गाजीपुर के भांवरकोल ब्लाक के वीरपुर गांव के रहने वाले हैं और कुख्यात अंगद राय भी उसी ब्लाक के शेरपुर खुर्द का है और सीओ भेलूपुर की रिपोर्ट में अतुल राय के विरुद्ध साजिशकर्ताओं में शामिल बताया गया विजय शंकर तिवारी रिश्ते में अंगद राय का साला लगता है। वह बिहार के आरा जिले का रहने वाला है और पीड़िता का साथी सत्यम राय भी भांवरकोल ब्लाक के सियाड़ी गांव का है जबकि पीड़िता बगल के गांव कोटवा नारायणपुर थाना नरहीं जिला बलिया की है।

 

Related Articles

Back to top button
AllEscortAllEscort